सफाई कर्मचारी बन गए साहब,चला रहे कंप्यूटर,दिखा रहे रौब*

*सफाई कर्मचारी बन गए साहब,चला रहे कंप्यूटर,दिखा रहे रौब*

संवाददाता ,अखिलेश कुमार

मसौली- बाराबंकी:
*प्राप्त सूचनाअनुसार*, विकास खण्ड मसौली में सफाई कर्मचारियों का बोल बाला है सफाई कर्मचारी क्षेत्र में न जा कर ब्लॉक परिसर में जमे हुए है ।कुछ सफाई कर्मचारी विकास खण्ड अधिकारी का निजी कार्य करते है तो कुछ सफाई कर्मचारी सहायक विकास अधिकारी जानकी राम के असिस्टेंट है ।और उनसे कंप्यूटर के कार्य से लेकर अपना निजी कार्य सब कुछ करवाते हैं । अब सोचने वाली बात यह है कि गांवों में कूड़े का अंबार लगा हुआ है गांवो में सफाई कर्मचारियों की भारी कमी है ।लेकिन अपने आराम के लिए विकास खण्ड मसौली के खंड विकास अधिकारी और सहायक विकास अधिकारी उनको ब्लॉक में अपने निजी कार्य के लिए लगाए हुए हैं । और तो और ब्लॉक ने तैनात लगभग 6 से 7 सफाई कर्मचारियों के हौसले इतने बुलंद है कि इनको किसी बात का डर नही है । बिना इनकी परमीशन के आप न तो बीडीओ से मिल सकते हो और न एडीओ से मिल सकते है।आपको बता दे कि गांवों के विकास की जिम्मेदारी पूर्ण रूप से ब्लॉक के अधिकारियों के ऊपर निर्भर है ।लेकिन इस पर कोई भी ब्लॉक का अधिकारी बोलने को तैयार नहीं । लक्ष्मी समाज सेवा ट्रस्ट के अध्यक्ष उत्तम पाण्डेय ने कहा कि तत्काल इस पर कार्यवाही हो और ब्लॉक में अधिकारियों की सेवा में तैनात सफाई कर्मचारियों को तत्काल गांव भेजा जाए । नही तो धरना प्रदर्शन होगा ।
इस संबंध में एक पत्र डीपीआरओ रोहित भारती को दिया गया है और एक पत्र जिलाधिकारी को दिया गया है ।साथ में लक्ष्मी समाज सेवा ट्रस्ट के महासचिव विशाल गुप्ता और रहमान उपस्थित रहे।